जाऊँ तो कहा जाऊँ इस तंग दिल दुनिया में,
हर शख्स मजहब पूछ के आस्तीन चढ़ा लेता है…!

बस यही आदत उसकी मुझे अच्छी लगाती है जब .युही
नज़रें झुका कर वो कहती है तुम्हे कोई हक नही 😭 💔

.मजबूरियॉ ओढ के निकलता हूं घर से आज कल..
वरना शौक तो आज भी है बारिशों में भीगनें का😭 💔

हम तो इन्तेजार करते करते अब मर जायेंगे…
कोइ तो आये एेसा जिन्दगी में जो बेवफा ना हो😭 💔

उसकी ये मासूम अदा मुझको बेहद भाती है…
वो मुझसे नाराज़ हो तो गुस्सा सबको दिखाती है💔 😢

जिस कदर तुमने भुला रखा है कभी सोचना,
हम सब छोड़कर निकले थे एक तेरी मोहब्बत के लिये😭 💔

SuN 👂 छोरे 👦 Main वक्त 🕔 के Sath मैं Apani स्टाईल जरुर #बदलती Hun Par सच्चे Dost नहीं 💄

मायूस ना हो, लबों को भी तकलीफ ना दे…
गर है प्यार तुझे, तो आँखों से बयां कर दे…

उंगलिया आज भी इस सोच में गुम है
उसने कैसे नए हाथ को थामा होगा…

💕चंद खुशियाँ ही बची थी, मेरे हाथो की लकीरो✋ में..!! वो भी तेरे आंसु पोछते😰 हुए, मिट गई..💖💘💕👈💑

उजड़ जाते हैं सिर से पाँव तक वो लोग ….
जो किसी बेपरवाह से बेइंतहा मोहब्बत करते हैं 😭 💔

खुद से मिलने की भी फुरसत नहीं है अब मुझे,
और वो औरो से मिलने का इलज़ाम लगा रहे है…

रात भर जागता हूँ एक एसे सख्श की खातिर…
जिसको दिन के उजाले मे भी मेरी याद नही आती💔 😢

मुझे भी शामिल करो गुनहगारों की महफ़िल में ,
मैं भी क़ातिल हूँ अपनी हसरतों का ,
मैंने भी अपनी ख्वाहिशों को मारा है।

मोहब्बत भी हाथों में लगी मेहँदी की तरह होती है
कितनी भी गहरी क्यों ना हो फीकी पड़ ही जाती है।

नज़रअंदाज़ करने की__सजा देनी थी तुमको__!
तुम्हारे दिल में उतर जाना__ज़रूरी हो गया था_

काश तुम भी हो जाओ तुम्हारी यादों की तरह,,…
ना वक़्त देखो, ना बहाना,, बस चले आओ…

चाहत देस से आनेवाले ये तो बता के सनम कैसे हैं ..?
दिलवालों की क्या हालत हैं, यार के मौसम कैसे हैं💔 😢

ये मेरी स्टेट्स ने भी कमाल कर दिया,
आज स्टेट्स
सुनके उसने मुझसे कहा …
मेरी जान ले लो मगर मुझे बेबफा ना कहो

इश्क के रिश्ते भी बड़े नाजुक होते है साहब,
रात को नम्बर बिजी आने पर भी टूट जाते है.!!

तुम रख ना सकोगे मेरा तौफ़ा संभालकर;
वरना मैं अभी दे दूं जिस्म से रूह निकाल कर।

इतनी हिम्मत तो नहीं किसी को हाल –ये –दिल सुना सके ,
बस जिसके लिये उदास है बो महसूस करे तो काफी है 😭 💔

कोई मिला नहीं तुम जैसा आज तक,
पर ये सितम अलग है की मिले तुम भी नही

हमें तो कब से पता था के तूबेवफा है
ऐ बेखबर
तुझे चाहा ही इस लिए की शायद तेरी फितरत बदल जाये💔 😢

मेरे बारे में इतना मत सोचना ,
दिल में आता हूँ , समज में नही ।

उंगलिया आज भी इस सोच में गुम है
उसने कैसे नए हाथ को थामा होगा…

बड़ी अजीब सी मोहब्बत थी तुम्हारी……
पहले पागल किया..
फिर पागल कहा..
फिर पागल समझ कर छोड़ दिया💔 😢

आज उस की आँखों मे आँसू आ गये,
वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है😭 💔