वक्त

अगर आप जिंदा हैं तो वक्त के साथ बदलना चाहिए।

जावेद अख्तर

काम

आप जो हैं वो आपके काम में दिखेगा।

थॉमस अल्वा एडीसन

ज़िन्दगी

मेरी ज़िन्दगी में कई तकलीफे है पर मेरे होठ उनको नहीं जानते है। वो हमेशा मुस्कुराते है।

चार्ली चैप्लिन

धर्म

मेरा धर्म बहुत सरल है मेरा धर्म दयालुता है।

दलाई लामा

कला

लोगों की कला उनके दिमाग का सही दर्पण है।

पंडित जवाहरलाल नेहरु

लक्ष्य

लक्ष्य बनाना अदृश्य को दृश्य में बदलने का पहला कदम है।

टोनी रॉबिंस

व्यक्ति

मानव विकास के दो चरण है कुछ होने से कुछ ना होना,और कुछ ना होने से सबकुछ होना। यह ज्ञान दुनिया भर में योगदान और देखभाल ला सकता है।

श्री श्री रवि शंकर

राजनीति

राजनीति क्या है? राजनीतिक प्रणाली विकास की राजनीति और राजनीतिक राजनीतिके जोड़ के बराबर है।

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम

प्यार

मै उनसे प्यार करता हूँ जिनमे असंभव की उत्कंठा है।

जोहान वोल्फगांग वों गेटे

प्रतिष्ठा

आप इस पर अपनी प्रतिष्ठा नहीं बना सकते कि आप क्या करने जा रहे हैं।

हेनरी फोर्ड

आत्मा

मनुष्य को सिर्फ तकनीकी दक्षता नही बल्कि आत्मा की महानता प्राप्त करने की भी ज़रुरत है।

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन

आत्मविश्वास

आप जो कुछ भी देखते हैं उसका संग्रह हूँ मैं।

साईं बाबा

फर्क

नजरिया एक छोटी सी चीज़ है जिससे बहुत फर्क पड़ता है।

विंस्टन चर्चिल

जिन्दगी

कामना का दामन छोटा मत करोजिन्दगी के फल को दोनों हाथों से दबा कर निचोड़ोरस की निर्झरी तुम्हारे बहाए भी बह सकती है ।

रामधारी सिंह दिनकर

शब्द

दया और प्रेम भरे शब्द छोटे हो सकते हैं लेकिन वास्तव में उनकी गूँज की कोई सीमा नहीं।

मदर टेरेसा

ईश्वर

पूर्ण रूप से ईश्वर में समर्पित हो जाइये।

साईं बाबा

प्रेरणादायक

न मैदान छोड़ो,न इंतजार करो,बस चलते रहो।

संदीप माहेश्वरी

दुनिया

दुनिया की कोई ताकत आपको हरा नहीं सकती यदि आप पीच पर डटे हैं तो।

संदीप माहेश्वरी

शक्तिशाली

ध्यान दीजिये कि सबसे कठोर पेड़ सबसे आसानी से टूट जाते हैं,जबकि बांस या विलो हवा के साथ मुड़कर बच जाते है।

ब्रूस ली

पसंद

अर्थव्यवस्था ने मुझे शाकाहारी बनने के लिए मजबूर कियालेकिन अंत में मैं इसे पसंद करने लगा।

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम

धर्म

धर्म शास्त्र अनावश्यक है।

स्टीफन हॉकिंग

स्वतंत्रता

आजादी का रास्ता प्रगति की ओर जाने वाला सबसे बढ़िया रास्ता है।

जॉनएफ केनेडी

आत्मा

आपका शरीर आत्मा की संतान है। आपको उस संतान का पोषण करना और उसे प्रशिक्षित करना चाहिए।

बी.के.एस आयंगर

भविष्य

परिवर्तन जीवन का नियम है और जो लोग केवल अतीत या वर्तमान में जीते हैंनिश्चित रूप से भविष्य से चूक जाते हैं।

जॉनएफ केनेडी

व्यक्ति

मैं मात्र एक व्यक्ति नहींअपितु सम्पूर्ण राष्ट्र व देश की सभ्यता व संस्कृति की अभिव्यक्ति हूँ।

बाबा रामदेव

कर्म

तुम जो भी कर्म प्रेम और सेवा की भावना से करते होवह तुम्हे परमात्मा की ओर ले जाता है। जिस कर्म में घृणा छिपी होती हैवह परमात्मा से दूर ले जाता है।

श्री सत्यसांईंबाबा

ख़ुशी

ख़ुशी तब मिलेगी जब आप जो सोचते हैंजो कहते हैं और जो करते हैंसामंजस्य में हों।

मोहनदास करमचंद गाँधी

पसंद

पांच प्रतिशत लोग सोचते हैं,दस प्रतिशत लोग सोचते हैं कि वे सोचते हैं और बाकी बचे पचासी प्रतिशत लोग सोचने से ज्यादा मरना पसंद करते हैं।

थॉमस अल्वा एडीसन

प्यार

यदि तुम उससे प्रेम करते हो जो तुमसे प्रेम करता हैतुम्हे क्या इनाम मिलना चाहिए? क्या टैक्स कलेक्टर भी यही काम नहीं करते हैं?

जीसस क्राइस्ट

मेहनत

अपने मेहनत की कमाई से जरुरतमन्द की भलाई भी करनी चाहिए।

श्री गुरु नानक देव

ज्ञान

अज्ञानता बदलाव से हमेशा डरती है।

पंडित जवाहरलाल नेहरु

गलत

जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं कि उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की।

अल्बर्ट आइंस्टीन

सच

जो लोग सच्चाई के मार्ग का अनुसरण करते है और लोगो के प्रति दया का भाव रखते है ऐसे लोगो के प्रति ही लोग करुणा और प्रेम का भाव रखते है।

गुरु गोविन्द सिंह

ख़ुशी

सदा चेहरे पर प्रसन्नता व मुस्कान रखो। दूसरों को प्रसन्नता दो,तुम्हें प्रसन्नता मिलेगी।

बाबा रामदेव

आस्था

आस्था वो पक्षी है जो भोर के अँधेरे में भी उजाले को महसूस करती है।

रबिन्द्रनाथ टैगोर

सच

मै उन सभी लोगो को पसंद करता हु जो सच्चाई के मार्ग पर चलते है।

गुरु गोविन्द सिंह

इच्छा

बीते हुए कल से सीखनाआज में जीनाकल के लिए आशा रखना। सबसे महत्तवपूर्ण चीज़ हैप्रशन पूंछना बंद मत करना।

अल्बर्ट आइंस्टीन

सफलता

पहाड़ पर चढ़ना ही सफलता कहलाती है शिखर पर खड़े रहना नहीं।

संदीप माहेश्वरी

मनकीशक्ति

मैं हर एक वस्तु में हूँ और उससे परे भी। मैं सभी रिक्त स्थान को भरता हूँ।

साईं बाबा

सच

किसी झूठ को ज्यादा बार बताया जाये तो वह सच्चाई का रूप धारण कर लेता है।

जोसफ स्टालिन

महत्वपूर्ण

यह महत्वपूर्ण नहीं है आपने कितना दियाबल्कि यह महत्वपूर्ण है की देते समय आपने कितने प्रेम से दिया।

मदर टेरेसा

प्रेरणादायक

महत्वाकांक्षा सख्त चीजों से बनी होनी चाहिए।

विलियम शेक्सपीयर

जीवन

जीवन की घटनाएं नहीं बल्कि हमारा विश्वास कि वो घटनाएं क्या मायने रखती हैं हमारे जीवन को आकार देती हैं।

टोनी रॉबिंस

खेल

जनरलस सोचते हैं कि युद्ध मध्य युग की खेल कूद प्रतियोगिताएं की तरह छेड़े जाने चाहिएमुझे शूरवीरों का कोई काम नहीं हैमुझे क्रांतिकारी चाहियें ।

अडोल्फ़ हिटलर

सफलता

कृत्रिम सुख की बजाये ठोस उपलब्धियों के पीछे समर्पित रहिये।

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम

स्वतंत्रता

जब तक गलती करने की स्वतंत्रता ना हो तब तक स्वतंत्रता का कोई अर्थ नहीं है।

मोहनदास करमचंद गाँधी

लक्ष्य

छोटा लक्ष्य अपराध है।

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम

व्यक्ति

मेरा मानना है कि फैशन इंसानों से अधिक कपडे फाड़ता है।

विलियम शेक्सपीयर

सफलता

जो व्यक्ति अपनी मौत को हमेशा याद रखता है वह सदा अच्छे कार्य में लगा रहता है।

डॉ. भीमराव रामजी अम्बेडकर

विचार

सोचना आसान हैकरना मुश्किल है,और अपने विचारों को कार्यों में परिणत कर देना तो दुनिया में सबसे मुश्किल काम है।

जोहान वोल्फगांग वों गेटे

शांति

शांति की शुरुआत मुस्कराहट से होती है।

मदर टेरेसा

सेहत

बिना सेहत के जीवन,जीवन नहीं है बस पीड़ा की एक स्थिति है मौत की छवि है।

गौतम बुद्ध

जीत

जीतने वाले लाभ देखते हैं,हारने वाले नुकसान।

शिव खेड़ा

विचार

एक नेता या कर्मठ व्यक्ति संकट के समय लगभग हमेशा ही अवचेतन रूप में कार्य करता है और फिर अपने किये गए कार्यों के लिए तर्क सोचता है।

पंडित जवाहरलाल नेहरु

जिंदगी

आप जहां भी हों,आपका जिस भी चीज़ से सामना होहर परिस्थिति में जो भी उत्तम हैउसे ले लें। तब जीवन सीखने का एक सिलसिला बन जाता है।

सद्गुरु जग्गी वासुदेव

व्यक्ति

यदि आप सौ लोगो को नहीं खिला सकते तो एक को ही खिलाइए।

मदर टेरेसा

आत्मज्ञान

आत्मज्ञान में कोई सुख नहीं होता,कोई पीड़ा नहीं होती बस होता है एक बेनाम आनंद,परमानंद।

सद्गुरु जग्गी वासुदेव

अनुभव

पूंजी मृत श्रम है जो पिशाच की तरह है जो केवल श्रम चूसकर ही जिन्दा रहता है और जितना अधिक जीता है उतना श्रम चूसता है।

कार्ल मार्क्स

जीवन

कोई चुनाव मत करिए जीवन को ऐसे अपनाइए जैसे वो अपनी समग्रता में है।

ओशो

समय

मेरा पति बहुत व्यस्त है कुछ समय के लिए उनके जाने की बात धीमी हो गई थी लेकिन अभी फिर उसे सामने आने के लिए एक कदम लगता है।

सरोजिनी नायडू