वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली गैरो की लाइन में सबसे आगे पाया अपनों को !!

तुमने समझा ही नहीं…और ना समझना चाहा,
हम चाहते ही क्या थे तुमसे… तुम्हारे सिवा😢 😭

ताज़ी है अब भी उस मुलाकात की खुशबू
जज़्बात में डूबे हुवे लम्हात की खुशबू
जिस हाथ कों पल भर के लिए थाम लिया था
मुद्दत से है हाथ में उसी हाथ की खुशबू

लफ्ज़ बीमार से पड़ गये है आज कल…..
एक खुराक तेरे दीदार की चाहिए😢 😭

कभी न कभी वो मेरे बारे में सोंचेगी ज़रूर..
के हासिल होने की उम्मीद भी नही थी, फिर भी वफ़ा करता था !!😢 😭

तमाशा न बना मेरी मोहब्बत का
कुछ तो लिहाज़ कर अपने किए वादों का

मरहम लगा सको तो गरीब के जख्मो पर लगा देना
हकीम बहुत है बाजार में अमीरो के इलाज खातिर !!

इश्क़ में कोई खोज नहीं होती,
यह हर किसी से हर रोज नहीं होती,
अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवजह मत समझना,
क्योंकि पलके कभी आँखों पर बोझ नहीं होती..!!😢 💔 😒

अखबार तो रोज़ आता है घर में,
बस अपनों की ख़बर नहीं आती. 😭

दबे होंठों को बनाया है सहारा अपना,
सुना है कम बोलने से बहुत कुछ सुलझ जाता है.!!

देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना,….. नफरत बता रही है तूने मोहब्बत गज़ब की थी.

जिस कदर तुमने भुला रखा है कभी सोचना,
हम सब छोड़कर निकले थे एक तेरी मोहब्बत के लिये..😢 😭

प्यार के दो मीठे बोल से खरीद लो मुझे
दौलत की सोचोगे तो पूरी दुनिया बेचनी पड़ेगी…😢 💔 😒

तेरी मजबूरियां भी होगी चलो मान लेते हैं
मगर तेरा वादा भी था मुझे याद रखने का😢 💔 😒

जख्म ही देना था तो पूरा जिस्म तेरे हवाले था,
लेकिन कम्बख़त ने जब भी वार किया, दिल पर ही किया😢 💔 😒

कोई छुपाता है, कोई बताता है,
कोई रुलाता है, तो कोई हंसाता है,
प्यार तो हर किसी को ही किसी न किसी से हो जाता है,
फर्क तो इतना है कि कोई अजमाता है और कोई निभाता है!😢 😭

तुम रख न सकोगे मेरा तोहफा संभालकर, वरना मैं अभी दे दूँ, जिस्म से रूह निकालकर…!!

कुछ बातों के मतलब हैं और कुछ मतलब की बातें, . . .
जब से फर्क समझा, जिंदगी आसान हो गई!!😢 😭

ख्वाब हमारे टूटे तो हालात कुछ ऐसी थी,
आँखे पल पल रोती 😭 थीं ,किस्मत हँसती रहती थी😢 💔 😒

तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।😢 😭

सुना है..इश्क की सजा मौत होती है..
तो लो मार दो हमेँ प्यार करते है हम आपसे.😢 💔 😒

मरने के नाम से जो रखते थे मुँह पे उँगलियाँ …..
अफ़सोस वही लोग मेरे दिल के क़ातिल😢 😭 निकले…..😢 😭

तुम हो तो बसंत है,
तुम नहीं तो बस अंत है😢 😭

रिश्ते खराब होने की एक वजह ये भी है,
कि लोग झुकना पसंद नहीं करते…!!

शायरी लिखना बंद कर दूंगा अब मैं यारो…. मेरी शायरी की वजह से दोस्तों की आँखों में आंसू अब देखे नहीं जाते….!!

हम तुम्हें मुफ़्त में जो मिले हैं,
क़दर ना करना हक़ है तुम्हारा..

कोई अच्छी सी सज़ा दो मुझको,
चलो ऐसा करो भूला दो मुझको,
तुमसे बिछडु तो मौत आ जाये,
दिल की गहराई से ऐसी दुआ दो मुझको!😢 😭

सुनो ये बादल जब भी बरसता है,
मन तुझसे ही मिलने को तरसता है..!!

खुद को औरों की तवज्जो का तमाशा न करो,
आइना देख लो अहबाब से पूछा न करो,
शेर अच्छे भी कहो, सच भी कहो, कम भी कहो,
दर्द की दौलत-ए-नायाब को रुसवा न करो।😢 💔 😒

क़ानून तो सिर्फ बुरे लोगों के लिए होता है….
अच्छे लोग तो शर्म से ही मर जाते हैं…!!

कुछ खास नही बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी .. .!!
हर रात का आखरी खयाल और हर सुबह की पहली सोच हो तुम.😢 💔 😒

भींग गई पलके फ़िर ये सोचकर…
तु मिलने आ तो रहा हैं,,,,
मगर फ़िर से बिछडने के लिये!!😢 😭

तनहा ही उम्र गुजरती है,
लोग तसल्लिया देते है साथ नहीं !!😢 😭

कसूर उनका नहीं हमारा ही है….
हमारी चाहत ही इतनी थी कि उनको गुरूर आ गया।😢 😭

आपको ज़ीद हे अगर हमे भूलने की तो, हमे भी ज़ीद हे आपको अपनी याद दिलाने की !!!!

तुझे कोई और भी चाहे,
इस बात से दिल थोडा थोडा जलता है,
पर फखर है मुझे इस बात पे कि,
हर कोई मेरी पसंद पर मरता हैँ😢 💔 😒

हम‬ भी ‪‎किसी‬ की ‪दिल‬ की ‪हवालात‬ में ‪‎कैद‬ थे..!!
फिर‬ उसने ‪‎गैरों‬ के ‪‎जमानत‬ पर हमें ‪ रिहा‬ कर दिया..!!😢 😭

मुझे किसी के बदल जाने का गम नही ,
बस कोई था,
जिस पर खुद से ज्यादा भरोसा था…😢 💔 😒

हम ने ही सिखाया था उने बाते करना !
आज हमारे लिए ही वक्त नही है !!😢 💔 😒

जिस्म उसका भी मिट्टी का है मेरी तरह….! ए खुदा फिर क्यू सिर्फ मेरा ही दिल तडफता है उस के लिये…!

आज उस की आँखों मे आँसू आ गये,
वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है….😢 😭

दर्द 💔से हाथ न मिलाते तो और क्या करते! गम के आंसू न बहाते तो और क्या करते! उसने मांगी थी हमसे रौशनी की दुआ! हम खुद को न जलाते तो और क्या करते!

दिल शोर करें फिर भी उसकी मानते कहाँ हो,
कोई बात आँखों में देख के पहचानते कहाँ हो।

लोग कहते हैं दुःख बुरा होता है, जब भी आता है रुलाता है। मगर हम कहते हैं दुःख अच्छा होता है, जब भी आता है कुछ सिखाता है।

वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही,
इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही,
खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए,
ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं!

कसूर उनका नहीं हमारा ही है….
हमारी चाहत ही इतनी थी कि उनको गुरूर आ गया।😢 😭

हाल यह है के तेरी याद में गम हूँ !!!
सब को मेरी और मझे को तेरी पड़ी रहती है !!!!!!😢 😭

सब का तो मुदावा कर डाला अपना ही मुदावा कर न सके;
सब के तो गिरेबाँ सी डाले अपना ही गिरेबाँ भूल गए।😢 💔 😒

उसी से पूछ लो उसके इश्क की कीमत
हम तो बस भरोसे पे बिक गए😢 😭

हमें क्या पता था, मौसम ऐसे रो पड़ेगा;
हमने तो आसमां को बस अपनी दास्ताँ सुनाई थी।😢 😭

जा तुझे तेरे हाल पर छोड़ दिया
इससे बेहतर तेरी सज़ा क्या होगी

वो अक्सर देता है मुझे मिसाल परिंदों की,
साफ़-साफ़ नहीं कहता के मेरा शहर छोड़ दो…😢 💔 😒

मुझे रुलाकर सोना तेरी आदत बन गयी है
जिस सुबह मेरी आँख न खुली उस दिन तुझे तेरी अपनी ही नींद से नफरत हो जाएगी😢 💔 😒

तेरे होने तक मैं कुछ ना था….
तेरा हुआ तो मैं बर्बाद हो गया

ख्वाब मत बना मुझे.. सच नहीं होते,
साया बना लो मुझे.. साथ नहीं छोडेंगे..!!😢 😭

उसने दरिया में डाल दी होगी
मेरी मोहब्बत भी…. एक नेकी थी😢 💔 😒

तलाश सिर्फ सुकून कि होती हैं नाम रिश्ते का चाहे जो भी हो

करो कुछ ऐसा दोस्ती में
की Thanks And Sorry words बे-ईमान लगे
निभाओ यारी ऐसे के यार को छोड़ना मुश्किल
और दुनिया छोड़ना आसान लगे…😢 💔 😒

अरे कितना झुठ बोलते हो तुम..
खुश हो और कह रहे हो मोहब्बत भी की है😢 💔 😒

नफरतों के जहान में हमको
प्यार की बस्तियां बसानी हैं,
दूर रहना कोई कमाल नहीं,
पास आओ तो कोई बात बने।😢 😭