तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना,
हम जान तो दे देते हैं… मगर जाने नहीं देते…😢 💔 😒

हमें आदत नही इंतज़ार की ,
पर क्या करें सुना है तेरे दर पर लम्बी कतारें है

परछाई आपकी हमारे दिल में है,
यादे आपकी हमारी आँखों में है,
कैसे भुलाये हम आपको,
प्यार आपका हमारी साँसों में है.

थोड़ी थोड़ी ही सही मगर बातें तो किया करो ,
चुप रहते हो तो भूल जाने का एहसास होता है।

ज़हर से ज्यादा खतरनाक है ये मोहब्बत….
जरा सा कोई चख ले मर – मर के जीता है।😢 😭

दिल टूटने💔 पर भी जो आपसे शिकायत तक ना करे,,😷 उससे ज्यादा मोहब्बत कोई और आपको नहीं कर सकता 💔

मोहब्बत होने में कुछ लम्हे लगते है ..
पूरी उम्र लग जाती है उसे भुलाने में …

पढ़ रहा हुं मैं इश्क की किताब अगर बन गया वकील तो ,
बेवफओं की खैर नही…।😢 😭

दोस्तो होली आई अौर चली भी गई थोड़ी देर बाद ‪#‎रंग‬ भी उतर गया, ये ‪#‎होली‬ बिल्कुल उसकी तरह निकली..!!

इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी
चलने का न सही, सम्भलने का हुनर तो आ गया😢 😭

दोस्तो से अच्छे तो मेरे दुश्मन निकले,, कमबख्त हर बात पर कहते हैं कि तुझे छोडेंगे नहीं.

सुना है के तुम रातों को देर तक जागते हो
यादों के मारे हो या मोहब्बत में हारे हो…😢 😭

एक वो है जो समझता नही,
और यहाँ जमाना मेरी कलम पढ़ कर दीवाना हुआ जा रहा है😢 😭

मैंने अपने ख्वाहिशो को दिवार में चुनवा दिया,
खामखाँ जिंदगी में अनारकली बनके नाच रही थी !!

मंज़िलों से गुमराह भी ,कर देते हैं कुछ लोग ।। हर किसी से रास्ता पूछना अच्छा नहीं होता !!

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई.

तुम बदले तो मज़बूरिया थी ,हम बदले तो बेवफा हो गए !!!

जिस उम्र में हमारे दाँत टूटे थे,
आज-कल के बच्चों के उस उम्र में दिल टूट जाते हैं।

राज ज़ाहिर ना होने दो तो एक बात कहूँ ,,
मैं धीरे- धीरे तेरे बिन मर जाऊँगा ….!!😢 😭

रह न पाओगे भुला कर देख लो,
यकीं न आये तो आजमा कर देख लो,
हर जगह महसूस होगी मेरी कमी,
अपनी महफ़िल को कितना भी सजा कर देख लो।😢 😭

शाख से फूल तोड़कर मैंने सीखा
अच्छा होना गुनाह है इस जहाँ में😢 😭

क्यूँ हर बात में कोसते हो तुम लोग नसीब को,
क्या नसीब ने कहा था की मोहब्बत कर लो !!

कुछ लोग इतने गरीब होते है की,
देने के लिए कुछ नहीं होता तो धोखा दे देते है
😢 💔 😒

तकलीफ ये नही की किस्मत ने मुझे धोखा दिया,
मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नही..😢 💔 😒

बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेगी ,
आज ज़रा वक़्त पर आना
मेहमान ए ख़ास हो तुम… !!😢 😭

क्यों हिज्र के शिकवे करता है क्यों दर्द 💔के रोने रोता है;
अब इश्क़ किया तो सब्र भी कर इस में तो यही कुछ होता है।😢 💔 😒

अगर लिखना चाहे कुछ उन पर!
आखो पर ही दुनिया के कलम खत्म हो जाये !!

*छूह लो तुम यूं ज़रा सा*
*कि मैं मर भी जाऊं तो मुझसे तेरी खुशबू आये…!*

इस नाज़ुक दिल में किसी के लिए इतनी मोहबत आज भी है यारो.
की हर रात जब तक आँखे ना भीग जाये नीद नही आती😢 💔 😒