इस नाज़ुक दिल में किसी के लिए इतनी मोहबत आज भी है यारो.
की हर रात जब तक आँखे ना भीग जाये नीद नही आती😢 💔 😒

वो कहते हैं हम जी लेंगे खुशी से तुम्हारे बिना,
हमें डर है वो टूटकर बिखर जायेंगे हमारे बिना।

चल अब मेरी साँस की जमानत रखा ले तू
शायद इस तहर में बन जाऊ तेरे एतबार के काबिल

ताज़ी है अब भी उस मुलाकात की खुशबू
जज़्बात में डूबे हुवे लम्हात की खुशबू
जिस हाथ कों पल भर के लिए थाम लिया था
मुद्दत से है हाथ में उसी हाथ की खुशबू

तेरी मज़बूरी का अंदाजा है मुझे !
पर मेरी बेबसी पर मेरा जोर नही !!

गम की परछाईयाँ यार की रुसवाईयाँ,
वाह रे मुहोब्बत ! तेरे ही दर्द 💔और तेरी ही दवाईयां

ना लफ़्ज़ों का लहू निकलता है ना किताबें बोल पाती हैं,
मेरे दर्द 💔के दो ही गवाह थे और दोनों ही बेजुबां निकले…😢 😭

धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल
अभी तो पलकें झुकाई है मुस्कुराना अभी बाकी है उनका.

उँगलियाँ मेरी वफ़ा पर तो ना उठाओ,
जिसे हो शक़ वो मुझसे निभाकर देखे…😢 😭

हाथ थामे जिनका चले थे कभी…
अब तनहा इस दिल में लिए घुमते है उन्हें…😢 😭

आप से दूर हो कर हम जायेंगे कहा,
आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहा,
दिल को कैसे भी संभाल लेंगे,
पर आँखों के आंसू हम छुपायेंगे कहा.

कहीं किसी रोज़ यूँ भी होता,
हमारी हालत तुम्हारी होती,
जो रात हमने गुज़ारी तड़प कर,
वो रात तुमने गुज़ारी होती।😢 😭

सवर रही है….अब वो ….
किसी और के लिए…….
पर मैं….
बिखर रहा हूँ …..
आज भी उसी के लिए😢 💔 😒

शोहरत अच्छी होती है, गुरूर अच्छा नहीं होता.. अपनों से बेरुखी सेे पेश आना, हुज़ूर अच्छा नहीं होता !!

बदनसीब मैं हूँ या तू हैं, ये तो वक़्त ही बतायेगा…
बस इतना कहता हूँ, अब कभी लौट कर मत आना.😢 💔 😒

बेवफाई तो सब करते है पगली….
.
.
तु तो समजदार थी,कुछ नया कर लेती..!

तन्हाई मे मुस्कुराना भी इश्क़ है,
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है,
यूँ तो रातों को नींद नही आती
पर रातों को सो कर भी जाग जाना इश्क़ है

❌टूटे हुए सपनो 👭😝और छुटे हुए अपनों 👬ने मार दिया ,वरना ख़ुशी💑 खुद हमसे मुस्कुराना😍 सिखने 🔱आया करती थी.. 💜 😒जख्मी 💔दिल अधूरा प्यार😒

काश तू मेरी मौत होती तो एक दिन मेरी ज़रूर होती।😢 😭

मेरे बारे में इतना मत सोचना ,
दिल में आता हूँ , समज में नही ।💔

तु खामोश क्यू है ये तो मालुम नही मगर,
.
.
दिल डूब सा जाता है जब तु खामोश होता है….😢 😭

सब कुछ है लेकिन तेरे अलफाज नही ,
बिन तेरे अलफाज के कोई साज नही .😢 💔 😒

बेगाना हमने नहीं किया किसी को,
जिसका दिल भरता गया वो हमें छोड़ता गया।😢 😭

लाखो हसीन है इस दुनिया में तेरी तरह,
क्या करे हमें तो तेरी रूह से प्यार है ।😢 💔 😒

ना मेरा दिल बुरा था ना उसमें कोई बुराई थी ,
सब नसीब का खेल है ,
बस किस्मत में जुदाई थी।😢 😭

यूँ तो शिकायते आप से सैंकड़ों हैं मगर..
आप एक मुस्कान ही काफी है मनाने के लिये।😢 💔 😒

जिसके लिए तोड़ दी मेंने सारी सरहदें..
आज उसी ने कह दिय ज़रा हद में रहा करो

दिल की उम्मीदों का हौसला तो देखो…
इन्तजार उसका..
जिसको एहसास तक नहीं

सब कुछ है लेकिन तेरे अलफाज नही ,
बिन तेरे अलफाज के कोई साज नही .😢 💔 😒

इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ऐ बेखबर,
शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं..!!😢 💔 😒

ढूंढ तो लेते अपने प्यार को हम,
शहर में भीड़ इतनी भी न थी..
पर रोक दी तलाश हमने,
क्योंकि वो खोये नहीं थे, बदल गये थे😢 💔 😒

रोती 😭 हुई आँखो मे इंतेज़ार होता है,
ना चाहते हुए भी प्यार होता है,
क्यू देखते है हम वो सपने,
जिनके टूटने पर भी उनके सच होने
का इंतेज़ार होता है?…..

इतना आसान नहीं है जीवन का हर किरदार निभा पाना,
इंसान को बिखरना पड़ता है रिश्तों को समेटने के लिए…😢 💔 😒

ऊंचाइयों पर देखकर हैरान है बहुत लोग,
पर किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे..

ज़िन्दगी गुजर रही है, इम्तिहानों के दौर से,
एक जख्म भरता नहीं, दूसरा तैयार मिलता है…!!

क्या लिखूँ , अपनी जिंदगी के बारे में. दोस्तों. वो लोग ही बिछड़ गए. ‘जो जिंदगी हुआ करते थे !!

पुछेगा अगर खुदा तो कहूँगी
हाँ हूई थी मोहब्बत मगर जिसके साथ हूई वो उसके काबिल ना था 😢 😭

वो पत्थर कहाँ मिलेंगे दोस्तों
जिसे लोग दिल पर रख कर एक दूसरे को भूल जाते हैं।

किसी को न पाने से ज़िंदगी खत्म नहीं हो जाती,
पर किसी को पाकर खो देने के बाद कुछ बाकी भी नहीं बचता😢 😭

मरहम लगा सको तो गरीब के जख्मो पर लगा देना
हकीम बहुत है बाजार में अमीरो के इलाज खातिर !!

कोई और गुनाह करवा दे मुझ से मेरे खुदा,
मोहब्बत करना अब मेरे बस की बात नहीं ।

याद मीठी सी दिलाकर चले गए !
दिल हमारा साथ उठा कर चले गए !!
सबे महफिल देखती ही रह गई !
वो मस्त ऑखों से पिलाकर चले गए !!

ना जाने क्या कमी है मुझमें,
ना जाने क्या खूबी है उसमें,
वो मुझे याद नहीं करती,
मैं उसको भूल नहीं पाता 😢 💔 😒

ना रहा करो उदास किसी बेवफा 😭 की याद में ,
वो खुश है अपनी दुनिया में तुम्हारी दुनिया उजाड़ कर😢 😭

ना मेरा दिल बुरा था ना उसमें कोई बुराई थी ,
सब नसीब का खेल है ,
बस किस्मत में जुदाई थी।😢 😭

अक्सर ठहर कर देखता हूँ
अपने पैरों के निशान को,
वो भी अधूरे लगते हैं…
तेरे साथ के बिना।

किसी के दिल में क्या छुपा है ये बस खुदा ही जानता है,
दिल अगर बेनकाब होता तो सोचो कितना फसाद होता..😢 💔 😒

चली जाने दो उसे किसी ओर कि बाहों मे ।। इतनी चाहत के बाद जो मेरी ना हुई, वो किसी ओर कि क्या होगी ।

वो पत्थर कहाँ मिलेंगे दोस्तों
जिसे लोग दिल पर रख कर एक दूसरे को भूल जाते हैं।

बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें, मेरा क्या है..
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।😢 😭

तुमको मिल जायेगा बेहतर मुझसे ! मुझको मिल जायेगा बेहतर तुमसे !
पर कभी कभी लगता है ऐसे…हम एक दूसरे को मिल जाते तो होता बेहतर सबसे !😢 😭

वो मतलब से मिलते थे और हमे तो बस मिलने से मतलब था !!!

पलकों में आँसू और दिल में दर्द 💔 सोया है ,
हँसने वालों को क्या पता रोने 😭 वाला किस कदर रोया 😭 है।

उसकी ये मासूम अदा मुझको बेहद भाती है…
वो मुझसे नाराज़ हो तो गुस्सा सबको दिखाती है…!!😢 💔 😒

इतनी सी बात थी जो समन्दर को खल गई…
का़ग़ज़ की नाव कैसे भँवर से निकल गई……

इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी
चलने का न सही, सम्भलने का हुनर तो आ गया😢 😭

बिछड़ के तुमसे ज़िन्दगी सज़ा लगती है
ये सांस भी जैसे मुझसे ख़फ़ा लगती है
अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किससे करूँ
मुझको तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफा लगती है.😢 💔 😒

ढूँढ ही लेता है मुझे किसी ना किसी बहाने से दर्द
वाकिफ़ हो गया है मेरे हर ठिकाने से 😢 😭

अगर फुर्सत के लम्हों में मुझे याद करते हो तो अब मत करना,
क्योंकि मैं तन्हा जरूर हूँ … मगर फ़िज़ूल बिलकुल नहीं…😢 💔 😒

दिल टूटने💔 पर भी जो आपसे शिकायत तक ना करे,,😷 उससे ज्यादा मोहब्बत कोई और आपको नहीं कर सकता 💔