​नाराजगी चाहे कितनी भी क्यो न हो तुमसे…
…,तुम्हें छोड़ देने का ख्याल हम आज भी नही रखते😢 💔 😒

खुदा करे, सलामत रहें दोनों हमेशा.
एक तुम और दूसरा मुस्कुराना तुम्हारा

मैंने समुन्दर से सीखा है जीने का सलीका,
चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना….!😢 😭

अभी कमसिन हैं जिदें भी हैं निराली उनकी,
इसपे मचले हैं हम कि दर्द-ए-जिगर देखेंगे।😢 💔 😒

काश मेरा घर तेरे घर के करीब होता ……,
बात करना न सही , तुझे देखना तो नसीब होता…….!!😢 💔 😒

लोग शोर से जाग जाते हैं और मुझे एक शख़्स की खामोशी सोने नहीं देती 😢 💔 😒

जिंदगी के किसी मोड़ पर अगर वो लौट भी आये तो क्या है,
वो लम्हात, वो जज्बात, वो अंदाज, तो ना अब लौटेंगे कभी…
क्योंकि हर किसी के नसीब में कहाँ लिखी हैं चाहतें,
कुछ लोग दुनिया में आते हैं सिर्फ बदनाम करने के लिए…..

तेरे ना होने से बस इतनी सी कमी रहती है
मै लाख मुस्कुराउ आखो मे नमी सी रहती है.

दर्द 💔तो बहुत है दिल में
पर दिखा नही सकते,
करते है मोहब्बत तुमसे
पर बता नही सकते।😢 😭

तेरे बिना जीना मुश्किल है …!
ये तुझे बताना और भी मुश्किल है….

ऐसा करते हैं तुम पर मरते हैं,
वैसे भी हमें मर ही जाना हैं!!!!!!!!

तेरी आँखों में जब से मैंने
अपना अक्स देखा है,
मेरे चेहरे को कोई आइना
अच्छा नहीं लगता।

हमें तो प्यार के दो लफ़्हज़ भी ना नसीब हुए..
और बदनाम ऐसे हुए जैसे इश्क़ के बादशाह थे हम😢 😭

अब अकेला नहीं रहा मैं यारों ….
मेरे साथ अब मेरी तन्हाई भी है।

रोकना मेरी हसरत थी जाना उसका शौक।
वो शौक पूरा कर गए मेरी हसरतें तोड़ कर।😢 😭

रोती 😭 हुई आँखो मे इंतेज़ार होता है,
ना चाहते हुए भी प्यार होता है,
क्यू देखते है हम वो सपने,
जिनके टूटने पर भी उनके सच होने
का इंतेज़ार होता है?…..

इतना भी ना चाहो किसी को ,वो चला जाये,
और ज़िन्दगी बेरंग , बोझिल, और गुमनाम हो जाए..😢 💔 😒

ए खुदा अगर तेरे पेन की श्याही खत्म है
तो मेरा लहू लेले, यू कहानिया अधूरी न लिखा कर।

तेरे करीब आकर बडी उलझन में हूँ,
मैं गैरों में हूँ या तेरे अपनो में हूँ !!

तेरी यादों ने मुझे क्या खूब मशरूफ किया है ऐ सनम..
द से मुलाकात के लिए भी वक़्त मुकर्रर करना पड़ता है।😢 💔 😒

मुझे रुलाकर सोना तेरी आदत बन गयी है
जिस सुबह मेरी आँख न खुली उस दिन तुझे तेरी अपनी ही नींद से नफरत हो जाएगी😢 💔 😒

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई.

इतनी लम्बी उम्र की
दुआ मत माँग मेरे लिये
ऐसा ना हो कि तू भी छोड दे
और मौत भी ना आए..!😢 😭

अपनी जवानी‬ में और ‪रखा‬ ही क्या है‬,
कुछ तस्वीरें‬ ‪‎यार‬ की ‪‎बाकी बोतलें‬ शराब की‬ ।।

ज़नाज़ा इसलिए भारी था
उस गरीब का ,.,
वो अपने सारेअरमान साथ लेकर गया था ,.,!

तुमसे किसने कह दिया कि मुहब्बत की बाजी हार गएहम?
अभी तो दाँव मे चलने के लिए मेरी जान बाकी है !

गुजारिश हमारी वह मान न सके,
मज़बूरी हमारी वह जान न सके,
कहते हैं मरने के बाद भी याद रखेंगे,
जीते जी जो हमें पहचान न सके.😢 💔 😒

तेरी यादें अक्सर छेड़ जाया करती हैं कभी अा़ँखों का पानी बनकर कभी हवा का झोंका बनकर.!!!

तेरे ना होने से बस इतनी सी कमी रहती है
मै लाख मुस्कुराउ आखो मे नमी सी रहती है.

इस से अच्छा हम चाँद से मुहब्बत कर लेते…
लाख दूर सही लेकिन दिखाई तो देता है..

कमी तेरे नसीबों में रही होगी,
कि तू मेरी ना हुई,
मैने तो कोशिश बहुत की,
तुझे अपना बनाने की…

जिस उम्र में हमारे दाँत टूटे थे,
आज-कल के बच्चों के उस उम्र में दिल टूट जाते हैं।

कुछ बातों के मतलब हैं और कुछ मतलब की बातें, . . .
जब से फर्क समझा, जिंदगी आसान हो गई!!😢 😭

दर्द 💔हैं दिल में पर इसका ऐहसास नहीं होता…
रोता 😭 हैं दिल जब वो पास नहीं होता…
बरबाद हो गए हम उनकी मोहब्बत में…
और वो कहते हैं कि इस तरह प्यार नहीं होता…

काश तुम भी हो जाओ तुम्हारी यादों की तरह,,…
ना वक़्त देखो, ना बहाना,, बस चले आओ…😢 😭

खुद को औरों की तवज्जो का तमाशा न करो,
आइना देख लो अहबाब से पूछा न करो,
शेर अच्छे भी कहो, सच भी कहो, कम भी कहो,
दर्द की दौलत-ए-नायाब को रुसवा न करो।😢 💔 😒

पता नही😏 कब जाएगी 🌅तेरी लापरवाही की आदत🙆🏻…..पागल👋 कुछ तो सम्भाल कर रखती😔 मुझे भी खो दिया…

तमाम नींदे गिरवी है उसके पास।
ज़रा सी मोहोब्बत ली थी जिससे।।

न जाने किस बात पे नाराज़ है वो हमसे…..!!👰 ख्वाबों में भी मिलती है, तो बात नहीं करती……!!💔💔💔

वो आज करती है नज़र अंदाज़ तो बुरा न मान,
टूट कर चाहने वालों को रुलाना रिवाज है इस दुनिया का !!😢 💔 😒

तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।😢 😭

ये मेरी स्टेट्स ने भी कमाल कर दिया,
आज स्टेट्स
सुनके उसने मुझसे कहा …
मेरी जान ले लो मगर मुझे बेबफा ना कहो😢 💔 😒

न कोई किसी से दूर होता है,
न कोई किसी के करीब होता है,
प्यार खुद चल कर आता है,
जब कोई किसी का नसीब होता है😢 💔 😒

तुमसे किसने कह दिया कि मुहब्बत की बाजी हार गएहम?
अभी तो दाँव मे चलने के लिए मेरी जान बाकी है !

मैं रोज़ लफ़्ज़ों में बयान करता हूँ अपना दर्द💔,
और सब लोग सिर्फ़ वाह वाह कह कर चले जाते है

ज़िक्र उस का ही सही बज़्म में बैठे हो फ़राज़,
दर्द 💔कैसा भी उठे हाथ न दिल पर रखना।😢 😭

वो सुना रहे थे अपनी वफाओं के किस्से हम पर नज़र पड़ी तो खामोश हो गए।😢 💔 😒

तेरी मजबूरियां भी होगी चलो मान लेते हैं
मगर तेरा वादा भी था मुझे याद रखने का😢 💔 😒

वो कहते हैं हम जी लेंगे खुशी से तुम्हारे बिना,
हमें डर है वो टूटकर बिखर जायेंगे हमारे बिना।

तनहा ही उम्र गुजरती है,
लोग तसल्लिया देते है साथ नहीं !!😢 😭

ऐसा करते हैं तुम पर मरते हैं,
वैसे भी हमें मर ही जाना हैं!!!!!!!!

मै फिर याद आऊंगा उस दिन
जब तेरे ही बच्चे कहेंगे मम्मी आपने कभी किसी से प्यार किया ???

हर रोज बहक जाते हैं मेरे कदम,
तेरे पास आने के लिये…ना जाने कितने फासले तय करने अभी बाकी है तुमको पाने के लिये..

अपनी जवानी‬ में और ‪रखा‬ ही क्या है‬,
कुछ तस्वीरें‬ ‪‎यार‬ की ‪‎बाकी बोतलें‬ शराब की‬ ।।

प्यार करो तो हमेशा मुस्कुरा के,
किसी को धोखा ना दो अपना बना के,
कर लो याद जब तक हम ज़िंदा है,
फिर ना कहना की चले गये दिल मे यादें बसा के…

दुरिया खलती है मुझे….
इतने करीब रिश्तों में…!!
कि आ भी जाओ मेरे पास. ..
यु ना मोहब्बत दो मुझे किश्तो मे..!!😢 💔 😒

अपना ही समझते हैं तुम्हें दिल-ओ-जाना हम तुम्हें;
दुश्मनों को तो कभी दिल में बसाया नहीं जाता।😢 😭

जिन्दगी मे कभी खुद को तन्हा न समझना,
साथ हूं मे तुम अपने से जुदा न समझना,
उर्म भर दोस्ती का वायदा किया है,
अगर जिन्दगी साथ न दे,
तो बे वफा न समझना!!

सच कहू तो में आज भी इस सोच में गुम हू !!!!
में तुम्हे जीत तो सकता था जाने हरा क्यों ?😢 😭

तन्हाई मे मुस्कुराना भी इश्क़ है,
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है,
यूँ तो रातों को नींद नही आती
पर रातों को सो कर भी जाग जाना इश्क़ है