भरोसा जितना कीमती होता है
धोका उतना ही महँगा हो जाता है।

किसी को प्यार करो तो इतना करों की उसे जब भी प्यार मिलें…
तो तुम याद आओ….😢 💔 😒

इश्क करने चला है तो कुछ अदब भी सीख लेना,
ए दोस्त इसमें हँसते साथ है पर रोना 😭 अकेले ही पड़ता है.

थोडे अोले इस दिल में भी बरसा दे ए मालिक..
उसकी यादों की फसल अब भी खड़ी है यहाँ..!!😢 💔 😒

आप से दूर हो कर हम जायेंगे कहा,
आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहा,
दिल को कैसे भी संभाल लेंगे,
पर आँखों के आंसू हम छुपायेंगे कहा.

हर फैसले होते नहीं,सिक्के उछाल कर..यह दिल के मामले है….जरा संभल कर!!

हमको खबर भी होने नही दी
किस मोड़ पर लाकर दिल तुने तोड़ा
अपना बनाना रहा दूर तुने
औरो के हो जाए ,ऐसा ना छोड़ा

जब भी चाहा सिर्फ तुम्हे चाहा.. पर कभी तुम से कुछ नही चाहा..!!

इतना कुछ हो रहा है..
दुनिया में, ……
क्या तुम मेरे नही हो सकते..

छोङो ना यार,
क्या रखा है सुनने और सुनाने मेँ,
किसी ने कसर नहीँ छोङी दिल दुखाने मेँ..😢 😭

दिलो मे खोट,,,जुबां से प्यार करते है ,,,
बहुत से लोग दुनिया मे,,,,बस यही व्यपार करते है

दर्द 💔से हाथ न मिलाते तो और क्या करते,
गम के आंसू न बहते तो और क्या करते,
उसने मांगी थी हमसे रौशनी की दुआ,
हम खुद को न जलाते तो और क्या करते!

बड़ी अजीब सी मोहब्बत थी तुम्हारी……
पहले पागल किया..
फिर पागल कहा..
फिर पागल समझ कर छोड़ दिया..😢 💔 😒

कश आज ऐसी बारिश बरसे,
जो तेरी यादों को भी बहा ले जाए.😢 😭

कुछ खास नही बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी .. .!!
हर रात का आखरी खयाल और हर सुबह की पहली सोच हो तुम.

जिस उम्र में हमारे दाँत टूटे थे,
आज-कल के बच्चों के उस उम्र में दिल टूट जाते हैं।

कोशिश के बाद भी जो पूरी ना हो सकी..
तेरा नाम भी उन ख्वाइशों मैं हैं..😢 😭

उम्र कैद की तरह होते हे कुछ रिश्ते ,, जहा जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नही!!!

आशियाँ बस गया जिनका, उन्हें आबाद रहने दो,
पड़े जो दर्द 💔भरे छाले, जिगर में यूँ ही रहने दो,
कुरेदो ना मेरे दिल को, ये अर्जी है जहां वालों,
छिपा है राज अब तक जो, राज को राज रहने दो। 😢 💔 😒

बरबाद कर देती है मोहब्बत,
हर मोहब्बत करने वाले को,
क्योंकि इश्क़ हार नही मानता,
और दिल बात नही मानता।😢 😭

चाहत के चिराग़ों में,ये ही अजीब बात है…..
मद्धम तो हो जाते हैं,मग़र बुझते नहीं…!😢 💔 😒

हजारो गम है सीने मे मगर शिकवा करें किससे…
इधर दिल है तो अपना है…
उधर तुम हो तो अपने हो…

रोज़ ख्वाबों में जीता हूँ वो ज़िन्दगी …
जो तेरे साथ मैंने हक़ीक़त में सोची थी ..

चल आ तेरे पैरो पर मरहम लगा दूं ऐ मुक़द्दर. कुछ चोटे तुझे भी आई होगी, मेरे सपनो को ठोकर मारकर !!

उनके हाथ पकड़ने की मजबूती जब ढीली हुई
तो एहसास हुआ शायद ये वही जगह है जहां रास्ते बदलने है ….😢 😭

कितने सालों के इंतज़ार का सफर खाक हुआ । उसने जब पूछा “कहो कैसे आना हुआ”।

बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें, मेरा क्या है..
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।😢 😭

ये ज़रूरी तो नही ना कि..
जिनके दिल में प्यार हो….
उनकी किस्मत में भी प्यार हो.😢 😭

हर रात गुजर रही है रूठने और मनाने में
कहीं साँसें थम ना जाए मेरी… हमारे प्यार को बचाने में……..

अबकी बार सुलह करले मुझसे ए दिल वादा करता हूँ
की फिर नहीं दूँगा तुझे किसी ज़ालिम के हाथों में😢 💔 😒

इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ऐ बेखबर,
शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं..!!😢 💔 😒

लिख देना ये अल्फाज मेरी कबर पे…!! मोत अछी है मगर दिल का लगाना अच्छा नहीं…!!

तुमने समझा ही नहीं…और ना समझना चाहा,
हम चाहते ही क्या थे तुमसे… तुम्हारे सिवा😢 😭

मैं ख़ामोशी तेरे मन की, तू अनकहा अलफ़ाज़ मेरा…
मैं एक उलझा लम्हा, तू रूठा हालात मेरा …

बात किस्मत की है जो जुदा हो गए हम वरना वो तो मुझे अपनी तकदीर कहा करते थे।😢 💔 😒

ना जाने क्यों तुझे देखने के बाद भी,
तुझे ही देखने की चाहत रहती है..

मेरे अल्फ़ाज़ तो चुरा लोगे.. वो दर्द.. कहाँ से लाओगे !!

रिहाई दे दो हमें अपनी मोहब्बत की कफस से,
कि अब ये दर्द 💔हमसे और सहा नहीं जाता।

किसी के दिल में क्या छुपा है ये बस खुदा ही जानता है,
दिल अगर बेनकाब होता तो सोचो कितना फसाद होता..

मुझे उससे कोई शिकायत ही नहीं,
शायद हमारी किसमत में चाहत ही नहीं,
मेरी तकदीर को लिखकर खुदा भी मुकर गया,
पूछा तो बोला ये मेरी लिखावट ही नही..😢 💔 😒

कौन चाहता है खुद को बदलना,
किसी को प्यार तो किसी को नफरत बदल देती है।😢 😭

कोई तो बरसात ऐसी हो जो तेरे संग बरसे ,
तन्हा तो मेरी आँखें हर रोज़ बरसती है .

वो रोया 😭 तो बहुत होगा खाली कागज़ देख कर..
ज़िन्दगी कैसी बीत रही है..
उसने पूछा था ख़त 📝 में…
😢 💔 😒

फासले ऐसे भी होगे ये कभी सोचा न था !
सामने बैठे थे मेरे पर वो मेरा न था

बहुत भीड़ हो गयी है तेरे दिल में, अच्छा हुआ हम वक़्त पर निकल गए !!

अरे कितना झुठ बोलते हो तुम..
खुश हो और कह रहे हो मोहब्बत भी की है😢 💔 😒

बड़े अजीब से इस दुनिया के मेले हैं, यूँ तो दिखती भीड़ है, पर फिर भी सब अकेले हैं…!

कुछ खास नही बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी .. .!!
हर रात का आखरी खयाल और हर सुबह की पहली सोच हो तुम.😢 💔 😒

इतना कुछ हो रहा है..
दुनिया में, ……
क्या तुम मेरे नही हो सकते..

न वो आ सके न हम कभी जा सके,
न दर्द 💔दिल का किसी को सुना सके,
बस बैठे है यादों में उनकी,
न उन्होंने याद किया और न हम उनको भुला सके !!😢 😭

तमाम नींदे गिरवी है उसके पास
ज़रा सी मोहोब्बत ली थी जिससे।।

ना कोई एहसास हैं, ना कोई जज्बात हैं;
बस एक रूह हैं, और कुछ अनकहे अल्फाज हैं।😢 😭

इस से अच्छा हम चाँद से मुहब्बत कर लेते…
लाख दूर सही लेकिन दिखाई तो देता है..

अधूरी मोहब्बत मिली तो नींदें भी रूठ गयी,
गुमनाम ज़िन्दगी थी तो कितने सुकून से सोया करते थे.

ज़िक्र उस का ही सही बज़्म में बैठे हो फ़राज़,
दर्द 💔कैसा भी उठे हाथ न दिल पर रखना।😢 😭

मैं कभी किसीको अपने दिल से दुर नही करता, बस जीनका दिल भर जाता है वो मुजसे दुर हो जाते हैँ।

उंगलिया आज भी इस सोच में गुम है
उसने कैसे नए हाथ को थामा होगा…

उजड़ जाते हैं सिर से पाँव तक वो लोग ….
जो किसी बेपरवाह से बेइंतहा मोहब्बत करते हैं !😢 😭

ख़ुशी कहा हम तो गम चाहते है, ख़ुशी उन्हे दे दो जिन्हें हम चाहते हे.

वो अक्सर देता है मुझे मिसाल परिंदों की,
साफ़-साफ़ नहीं कहता के मेरा शहर छोड़ दो…😢 💔 😒