छोङो ना यार,
क्या रखा है सुनने और सुनाने मेँ,
किसी ने कसर नहीँ छोङी दिल दुखाने मेँ..😢 😭

यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने. कि इल्जाम झूठे भले हैं पर लगाये तो तुमने हैं !!

परिसथिति एक ऐसी चीज है जो इऩसान को सबकुछ सीखा देती है, बचपन मे ही बड़ा बना देती है।

ये अश्क़ नहीं तेरी यादों के मोती हैं
तेरे लिये रोज़ सँवरती हूँ इन्हें पहन कर…😢 😭

मुमकिन नहीं शायद किसी को समझ पाना …
बिना समझे किसी से क्या दिल लगाना😢 😭

तुझे कोई और भी चाहे,
इस बात से दिल थोडा थोडा जलता है,
पर फखर है मुझे इस बात पे कि,
हर कोई मेरी पसंद पर मरता हैँ😢 💔 😒

राज तो हमारा हर जगह पे है…
पसंद करने वालों के दिल में ;
और नापसंद करने वालों के दिमाग में…।।😢 😭

खुदा करे, सलामत रहें दोनों हमेशा.
एक तुम और दूसरा मुस्कुराना तुम्हारा

दर्द💔 को छुपाए बैठा रहा,
आंखों की नमी को छुपाए बैठा रहा,
उम्मीद टूटी नहीं है अभी भी,
तेरे लौट आने की खुशी में बैठा रहा।😢 😭

स्याहीथोड़ी‬ #कम पड़ गई वर्ना #किस्मत तो अपनी भी #खूबसूरत #लिखी गई थी….😢 😭

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता
इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता
ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता
के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता …😢 😭

मैं जहर तो पी लु शौक से तेरी खातिर..
पर शर्त ये है कि तुम सामने बैठ कर सासो को टूटता देखो..😢 💔 😒

सीख रहा हूँ मै भी अब मीठा झूठ बोलने का हुनर,
कड़वे सच ने हमसे, ना जाने, कितने अज़ीज़ छीन लिए।😢 💔 😒

ज़रा देखो ये दरवाज़े पर दस्तक किसनेदी है;
अगर इश्क़ हो तो कहना यहाँ दिल नही रहता

तुझको भी जब अपनी कसमें अपने वादे याद नहीं;
हम भी अपने ख्वाब तेरी आँखों में रख कर भूल गए।😢 😭

वो उदासी भर लम्हा
जब उनके पास आपके इलावा सब के लिए टाइम होता है😢 💔 😒

तुम दूर हो या पास फर्क किसे पड़ता है,
तू जँहा भी रहे तेरा दिल तो यँही रहता है..!!

अफ़सोस होता है उस पल जब अपनी पसंद कोई ओर चुरा लेता है..
ख्वाब हम देखते है..
और हक़ीक़त कोई और बना लेता है.😢 💔 😒

टूट कर चाहा था तुम्हे और तोड़ कर रख दिया तुमने मुझे😢 😭

अब अकेला नहीं रहा मैं यारों ….
मेरे साथ अब मेरी तन्हाई भी है।

हमारी कद्र उनको होगी तन्हाईयो में एक दिन, अभी तो बहुत लोग हैं उनके पास दिल्लगी करने को….!!

यहाँ सब खामोश है कोई आवाज़ नहीं करता…
सच बोलकर कोई, किसी को नाराज़ नहीं करता।😢 😭

बरसों सजाते रहे हम किरदार को अपने…
कुछ लोग बाजी मार ले गये यहाँ सूरत सवार कर…😢 😭

वही हम हैं…वहीज़िन्दगी है हमारी
हाँ कभी-कभी कुछ अलग-सा भी हो जाया करता है…!.😢 😭

आज कल वो हमसे डिजिटल नफरत करते हैं,
हमें ऑनलाइन देखते ही ऑफलाइन हो जाते हैं.😢 😭

मैखाने मैं आऊंगा मगर पिऊंगा नहीं साकी,
ये शराब मेरा गम मिटाने की औकात नही रखती…😢 😭

तुम्हारा साथ तसल्ली से चाहिए मुझे..
जन्मों की थकान लम्हों में कहाँ उतरती है !!

इश्क़ सभी को जीना सिखा देता है,
वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है,
इश्क़ नहीं किया तो करके देखो,
ज़ालिम हर दर्द सहना सीखा देता है!😢 😭

भरम है ..
तो भरम ही रहने दो ….
जानता हूं मोहब्बत नहीं है …
पर जो भी है … कुछ देर तो रहने दो😢 💔 😒

#सब_शायर ☝📝 #खामोश 😔 हैं #ऐसे, 😒 #किसी_बेवफा 💃 ने #ज़हर_दे 😰 #दिया हो #जैसे…😤😏

तेरी जगह आज भी कोई नहीं ले सकता ,
पता नहीं वजह तेरी खूबी है या मेरी कमी..!!😢 😭

हमारी चर्चा छोडो दोस्तों,
हम ऐसे लोग है जिन्हें,
नफरत कुछ नहीं कहती और मोहब्बत मार डालती है…😢 💔 😒

बड़ी बेरहम है यारा तेरी यादें जितना दूर जाना चाहूँ
और करीब आ जाती हैं मुझे तेरे और करीब ले जाती हैं😢 💔 😒

छुपे हैं लाख हक़ के मरहले गुम-नाम होंटों पर;
उसी की बात चल जाती है जिस का नाम चलता है।

पास आओगे तो सब अपने पसन्द का पाओगे,
तेरे ख्यालो में रहकर तुझमें में ही ढ़ल गया मै।😢 💔 😒

खुदगर्ज ही सही,कुछ भी कहो
पर सुनो,तेरी जरूरत है मुझे….!!😢 💔 😒

बडी मुश्किलों से सीखा हे जीना,
दूर तुझसे होकर तेरे बिना….
लोटकर फिर न आना, वरना जीकर भी मर जाऊँगा तेरे बिना😢 💔 😒

महकाने लाख बंद करे जमाने वाले
शहर में कम नहीं आखों से पिलाने वाले😢 😭

वक़्त मिले तो प्यार की किताब पढ़ लेना,
हर प्यार करने वाले की कहानी अधूरी होती है.😢 💔 😒

न कोई किसी से दूर होता है,
न कोई किसी के करीब होता है,
प्यार खुद चल कर आता है,
जब कोई किसी का नसीब होता है😢 💔 😒

मुझे अपने किरदार पे इतना तो यकीन है की, कोई मुझे छोड़ सकता है लेकिन भूल नही सकता…!!

ना जाने क्यों तुझे देखने के बाद भी,
तुझे ही देखने की चाहत रहती है..

वक़्त मिला उसे तो हमें भी याद कर ही लेगा वो,
फ़ुरसत के लम्हों में हम भी बड़े ख़ास हैं उसके लिए.😢 💔 😒

उसकी आंखे इतनी गहरी थी की ,
तैरना तो आता था मगर डूब जाना अच्छा लगा .😢 💔 😒

ख़ंजर चले किसी पे तड़पते हैं हम अमीर;
सारे जहाँ का दर्द 💔हमारे जिगर में है।😢 😭

ए खुदा अगर तेरे पेन की श्याही खत्म है
तो मेरा लहू लेले, यू कहानिया अधूरी न लिखा कर।

समन्दर की स्याही बनाकर शुरू किया था लिखना
खत्म हो गई स्याही मगर माँ की तारीफ बाकी है😢 💔 😒

तमाशा न बना मेरी मोहब्बत का
कुछ तो लिहाज़ कर अपने किए वादों का

पहली बारिश का नशा ही कुछ अलग होता हैं,
पलको को छूते ही सीधा दिल पे असर होता हैं।😢 😭

घुटन सी होने लगी है,
इश्क़ जताते हुए,
मैं खुद से रूठ गया हूँ,
तुम्हे मनाते हुए…😢 😭

मेरी तन्हाई पुछती हे मुझसे,
बता आज कौन बिछड गया तुझसे,
क्या बताऊँ की मेरा कोई साथी ही नही,
शायद आज जुदा हो गया हुँ खुद से.!

कोशिश बहुत की राज़-ए-मुहब्बत बयाँ न हो,
मुमकिन कहाँ था की आग लगे और धुँआ न हो😢 😭

कोई अच्छी सी सज़ा दो मुझको,
चलो ऐसा करो भूला दो मुझको,
तुमसे बिछडु तो मौत आ जाये,
दिल की गहराई से ऐसी दुआ दो मुझको!😢 😭

कुर्बान हो जाऊं उस सख्स के हाथों की लकीरों पर
जिसने तुझे माँगा भी नहीं और तुझे अपना बना लिया ……!

ख्वाब हमारे टूटे तो हालात कुछ ऐसी थी,
आँखे पल पल रोती 😭 थीं ,किस्मत हँसती रहती थी😢 💔 😒

बेगाना हमने नहीं किया किसी को,
जिसका दिल भरता गया वो हमें छोड़ता गया।😢 😭

मायूस ना हो, लबों को भी तकलीफ ना दे…
गर है प्यार तुझे, तो आँखों से बयां कर दे…😢 💔 😒

एक सुकून की तलाश मे जाने कितनी बेचैनियां पाल ली,
और लोग कहते है हम बडे हो गए हमने जिंदगी संभाल ली.😢 💔 😒

राज ज़ाहिर ना होने दो तो एक बात कहूँ ,,
मैं धीरे- धीरे तेरे बिन मर जाऊँगा ….!!😢 😭

मैं जहर तो पी लु शौक से तेरी खातिर..
पर शर्त ये है कि तुम सामने बैठ कर सासो को टूटता देखो..😢 💔 😒