चाहत वो नहीं जो जान देती है,
चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है,
ऐ दोस्त चाहत तो वो है,
जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं.

🔥🔥आज अचानक कोई मुझसे लिपट कर बहुत रोया😓.. कुछ देर बाद एहसास हुआ ये तो मेरा ही साया है..🔥🔥

सुना है के तुम रातों को देर तक जागते हो
यादों के मारे हो या मोहब्बत में हारे हो…😢 😭

तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे
उतनी ही तकलीफ देते हैं जितनी बर्दाश्त कर सकूँ ।।😢 😭

जो आपकी ख़ुशी छीन ले उसके पीछे रोने 😭 का कोई फायदा नहीं 😢 😢

आप तब तक ख़ुशी नहीं रह पाएंगे जब तक आप ये
खोजते रहेंगे की ख़ुशी कहा मिलेगी।
और आप तक ख़ुशी से जी नहीं पाएगे जब तक लेफे का
मीनिंग खोजते रहेंगे।

बड़ी हिम्मत दी उसकी जुदाई ने
ना अब किसी को खोने का दुःख
ना किसी को पाने की चाह।😢 💔 😒

इश्क वो खेल नहीं जो छोटे दिल वाले खेलें, रूह तक काँप जाती है, सदमे सहते-सहते.

अखबार तो रोज़ आता है घर में,
बस अपनों की ख़बर नहीं आती. 😭

गम ने हसने न दिया,
ज़माने ने रोने 😭 न दिया!
इस उलझन ने चैन से जीने न दिया!
थक के जब सितारों से पनाह ली!
नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया!

न जाने किस बात पे नाराज़ है वो हमसे…..!!👰 ख्वाबों में भी मिलती है, तो बात नहीं करती……!!💔💔💔

मुझे भी सिखा दो भूल जाने का हुनर..
मैं थक गया हूँ हर लम्हा हर सांस तुम्हें याद करते करते..!!

मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे,
अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।😢 😭

नज़रअंदाज़ करने की__सजा देनी थी तुमको__!
तुम्हारे दिल में उतर जाना__ज़रूरी हो गया था_

मायूस ना हो, लबों को भी तकलीफ ना दे…
गर है प्यार तुझे, तो आँखों से बयां कर दे…😢 💔 😒

तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे ।
उतनी ही तकलीफ देते हैं जितनी बर्दाश्त कर सकूँ ।।😢 😭

तेरी खूबसूरती की तारीफ में क्या लिखूं,
कुछ खूबसूरत शब्दों की अभी तलाश है मुझे…😢 😭

इस नाज़ुक दिल में किसी के लिए इतनी मोहबत आज भी है यारो.
की हर रात जब तक आँखे ना भीग जाये नीद नही आती😢 😭

लफ्ज़ बीमार से पड़ गये है आज कल…..
एक खुराक तेरे दीदार की चाहिए😢 😭

गुनाह करके सजा से डरते है, ज़हर पी के दवा से डरते है. दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे, हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है.😢 💔 😒

उँगलियाँ मेरी वफ़ा पर तो ना उठाओ,
जिसे हो शक़ वो मुझसे निभाकर देखे…😢 😭

मैंने अपने ख्वाहिशो को दिवार में चुनवा दिया,
खामखाँ जिंदगी में अनारकली बनके नाच रही थी !!

इश्क़ सभी को जीना सिखा देता है,
वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है,
इश्क़ नहीं किया तो करके देखो,
ज़ालिम हर दर्द सहना सीखा देता है!😢 😭

हाल यह है के तेरी याद में गम हूँ !!!
सब को मेरी और मझे को तेरी पड़ी रहती है !!!!!!😢 😭

हर रोज बहक जाते हैं मेरे कदम,
तेरे पास आने के लिये…ना जाने कितने फासले तय करने अभी बाकी है तुमको पाने के लिये..

परेशानी में कोई सलाह मांगे तो सलाह के साथ अपना साथ भी देना,
क्योकि सलाह गलत हो सकती है,साथ नहीं..!!😢 💔 😒

दिल में धड़कन और धड़कन में तुम,
क्यों दिया धोखा अकेले रह गए हम😢 😭

ख्वाब हमारे टूटे तो हालात कुछ ऐसी थी,
आँखे पल पल रोती 😭 थीं ,किस्मत हँसती रहती थी💔

परछाई आपकी हमारे दिल में है,
यादे आपकी हमारी आँखों में है,
कैसे भुलाये हम आपको,
प्यार आपका हमारी साँसों में है.😢 😭

राज़ ज़ाहिर ना होने दो तो एक बात कहूँ ,
मैं धीरे- धीरे तेरे बिन मर जाऊँगी !!😢 😭

मुद्दत बाद जब उसने मेरी खामोश आँखें देखी तो ये कहकर फिर रुला गया कि लगता है अब सम्भल गए हो💔

इश्क करने चला है तो कुछ अदब भी सीख लेना,
ए दोस्त इसमें हँसते साथ है पर रोना 😭 अकेले ही पड़ता है.

वो रोया 😭 तो बहुत होगा खाली कागज़ देख कर..
ज़िन्दगी कैसी बीत रही है..
उसने पूछा था ख़त 📝 में…
😢 💔 😒

चाह से ज्यादा, चाहने की चाह,
मुझे भी थी उसे लेकिन क्या फायदा ऐसी चाह का,
जो चाहकर भी ना बन सके मेरी चाह😢 😭

❌टूटे हुए सपनो 👭😝और छुटे हुए अपनों 👬ने मार दिया ,वरना ख़ुशी💑 खुद हमसे मुस्कुराना😍 सिखने 🔱आया करती थी.. 💜 😒जख्मी 💔दिल अधूरा प्यार😒

कोई दुश्मनी नही ज़िन्दगी से मेरी..
बस ज़िद्द है तेरे साथ जीना है..😢 😭

उजड़ जाते हैं सिर से पाँव तक वो लोग ….
जो किसी बेपरवाह से बेइंतहा मोहब्बत करते हैं !😢 😭

कोई रास्ता नही दुआ के सिवा,
कोई सुनता नही खुदा के सिवा,
मैने भी ज़िंदगी को करीब से देखा है मेरे दोस्त,
मुस्किल मे कोई साथ नही देता आँसू के सिवा.

तेरे होने तक मैं कुछ ना था….
तेरा हुआ तो मैं बर्बाद हो गया

रास्ते वही होंगे और नज़ारे वही होंगे,
पर हमसफ़र अब हम तुम्हारे नहीं होंगे।😢 😭

महसुस हो रही है सरगोशियां धडकनों की. ..
लगता है एक पगला मेरे शहर आ रहा है!!

मुझे गुमान था कि चाहा बहुत सबने मुझे;
मैं अज़ीज़ सबको था मगर ज़रूरत के लिए।

इस नाज़ुक दिल में किसी के लिए इतनी मोहबत आज भी है यारो.
की हर रात जब तक आँखे ना भीग जाये नीद नही आती😢 😭

बेवफा तेरा मासुम चेहरा
भुल जाने के काबिल नही।
है मगर तु बहुत खुबसुरत
पर दिल लगाने के काबिल नही.

हम तो उसकी 👸 हर ख़्वाहिश ✍ पूरी करने का वादा 🙌 कर बैठे थे, हमें क्या पता हमको छोड़ना ❌ भी उसकी एक 👈 ख़्वाहिश 😔 थी। 💔

कोई मिला नहीं तुम जैसा आज तक,
पर ये सितम अलग है की मिले तुम भी नही

सीख जाओ वक्त पर किसी की चाहत की कदर करना..
कहीं कोई थक ना जाये तुम्हें एहसास दिलाते दिलाते..😢 💔 😒

गुलाम बनकर जिओगे तो.
कुत्ता समजकर लात मारेगी तुम्हे ये दुनिया
नवाब बनकर जिओगे तो,
सलाम ठोकेगी ये दुनिया….
दम कपड़ो में नहीं,
जिगर में रखो….
बात अगर कपड़ो में होती तो,
सफ़ेद कफ़न में,
लिपटा हुआ मुर्दा भी सुल्तान मिर्ज़ा होता

क़ानून तो सिर्फ बुरे लोगों के लिए होता है….! ..
अच्छे लोग तो शर्म से ही मर जाते हैं…!!

इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी
चलने का न सही, सम्भलने का हुनर तो आ गया😢 💔 😒

शक ना कर मेरी मुहब्बत परपगली……. अगर मै सबूत देने पर आया तो … तु बदनाम हो जायेगी..!!!

चुपके से धड़कन में उतर जायेंगे,
राहें उल्फत में हद से गुजर जायेंगे,
आप जो हमें इतना चाहेंगे…
हम तो आपकी साँसों में पिघल जायेंगे.

​नाराजगी चाहे कितनी भी क्यो न हो तुमसे…
…,तुम्हें छोड़ देने का ख्याल हम आज भी नही रखते😢 💔 😒

गलती उनकी नही
कसूरवार मेरी गरीबी थी दोस्तों
हम अपनी औकात भूलकर बड़े लोगों से दिल ❤ लगा बैठे

मुहब्बत न सही मुकद्दमा ही कर दो मुझ पर……
तारीख़ दर तारीख़ तेरा दीदार तो होगा….😢 😭

आशियाँ बस गया जिनका, उन्हें आबाद रहने दो,
पड़े जो दर्द 💔भरे छाले, जिगर में यूँ ही रहने दो,
कुरेदो ना मेरे दिल को, ये अर्जी है जहां वालों,
छिपा है राज अब तक जो, राज को राज रहने दो। 😢 💔 😒

कौन कहता है अलग अलग रहते है हमतुम,,
हमारी यादों के सफ़र में हमसफ़र हो तुम…

मोहब्बत भी हाथों में लगी मेहँदी की तरह होती है
कितनी भी गहरी क्यों ना हो फीकी पड़ ही जाती है।😢 😭

तुझे चिठ्ठीयां नहीं करवटो की नकल भेजेंगे,
अब चादर के नीचे कार्बन लगाने लगे हैँ हम,
एक ख्वाहिश है मेरी, पूरी हो इबादत के बगैर,
वो आकर लिपटे मुझसे, मेरी इजाजत के बगैर.😢 😭

मैंने समुन्दर से सीखा है जीने का सलीका,
चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना….!😢 😭