सच्चे प्यार के लिए दूरियां मायने नहीं रखतीं।

मिलने को तो दुनिया मे कई चेहरे मिले ,, पर तुम सी ‪#‎मोहब्बत‬ हम खुद से भी न कर पाये..!!

उस शख्स में बात ही कुछ ऐसी थी दिल नहीं देते तो जान चली जाती..!

कोई केह दे उन्हें , अपनी ख़ास हिफाजत किया करे ,, बेशक साँसे उनकी हे , पर जान तो मेरी हे ।

ज़ख़्मों के बावजूद मेरा हौसला तो देख…. तू हँसी तो मैं भी तेरे साथ हँस दिया….!!

मुहब्बत नहीं है नाम सिर्फ पा लेने का…. बिछड़ के भी अक्सर दिल धड़कते हैं साथ-साथ….!!

हज़ारो मैं मुझे सिर्फ़ एक वो शख्स चाहिये ,, जो मेरी ग़ैर मौजूदगी मैं, मेरी बुराई ना सुन सके !!

वो नकाब लगा कर खुद को इश्क से महफूज समझते रहे ; नादां इतना भी नहीं समझते कि इश्क चेहरे से नहीं आँखों से शुरू होता है !!

तू इतना प्यार कर जितना तू सह सके, बिछड़ना भी पड़े तो ज़िंदा रह सके….!!

हमने लिया सिर्फ होंठों से जो तेरा नाम..दिल होंठो से उलझ पड़ा कि ये सिर्फ मेरा है !!

मुझसे मत पूछना कि मैं तुम्हे प्यार क्यूँ करता हूँ क्यूंकि तब मुझे अपने जीने कि वजह बतानी पड़ेगी।

मुस्कराहट का कोई मोल नहीं होता , कुछ रिश्तों का कोई तोल नहीं होता लोग तो मिल जाते है हर मोड़ पर लेकिन हर कोई आप सब की तरह अनमोल नहीं होता !!!

उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं हे , ये दिल उसका हे , अपना होता तो बात और होती ।

जब भी मैं तुमसे दूर होता हूँ, मुस्कुराते हुए तुम्हारे पुराने मेसेज और चिट्ठियां दोबारा दोबारा पढता हूँ ! हाँ ! तुमसे इतना प्यार करता हूँ मैं।

उसकी मुहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब है, अपना भी नहीं बनाती और किसी का होने भी नहीं देती….!!

सालो साल बातचीत से उतना सुकून नही मिलता, जितना एक बार महबूब के गले लग कर मिलता है….!!

#‎मेरी‬ SMILE 😀 का PASSWORD हो 👰 तुम दोबारा मत पूछना मेरी कोन हो तुम !!

होश वालों को खबर क्या बेखुदी क्या चीज़ है , इश्क़ कीजिए फिर समझिए जिंदगी क्या चीज़ है !!!

जरुरी नहीं कि इंसान प्यार की मूरत हो, सुंदर और बेहद खूबसूरत हो, अच्छा तो वही इंसान होता है, जो तब आपके साथ हो, जब आपको उसकी जरुरत हो।

हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की, और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की, शिकवा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है, क्या ज़रूरत थी, तुम्हें इतना खूबसूरत बनाने की !!

ज़माने पर यकीन करने की कितनी भी कोशिश करो, सावधान इंडिया का एक एपिसोड सारे मेहनत पर पानी फेर देता है।

चलो पूरी कायनात का बँटवारा करते है, तुम सिर्फ मेरे बाकी सब तुम्हारा !!!

कितने कम लफ्जों मे जिंदगी को बयान करूँ, लो तुम्हारा नाम लेकर किस्सा तमाम करूँ !!

दिल मे छूपा रखी.. है मुहब्बत_काले__ धन की तरह खुलासा नही करता हू कि कही हंगामा ना हो जाये !!

ऐ मोहब्बत तुझे पाने की कोई राह नहीं, शायद तू सिर्फ उसे ही मिलती है जिसे तेरी परवाह नही।

सबूत गूनाहो के होते हैं, बेगुनाह मुहब्बत का क्या सबूत दू ?

सच्चे प्यार कि कोई Expiration Date नहीं होती।

जाते वक्त बहोत गुरूर से कहा था उसने…. तुम जैसे हजार मिलेंगे मैंने मुस्कुरा कर कहा…. मुझ जैसे की ही तलाश क्यों..??

खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है..! वरना हम दिल चुरा भी लेते हैं..!

कभी इतना मत मुस्कुराना की नजर लग जाए जमाने की, हर आँख मेरी तरह मोहब्बत की नही होती….!!!

खुदा ने जब इश्क़ बनाया होगा,.,., तो खुद आज़माया होगा,.,., हमारी तो औकात ही क्या है,.,., इस इश्क़ ने खुदा को भी रुलाया होगा !!

सब कहते हैं ज़िन्दगी में सिर्फ एक बार प्यार करना चाहिए, लेकिन तुमसे तो मुझे बार बार प्यार करने को दिल चाहता है।

सारे ताबीज गले में पहन कर देख लिए आराम तो बस तेरे दीदार से ही मिला !!!

दोनों की पहली चाहत थी , दोनों टूट के मिला करते थे … वो वादे लिखा करती थी , में कसमे लिखा करता था !!!

प्रेम तब तक सिर्फ एक शब्द भर है जब तक आप इसका अहसास नहीं कर लेते।

दुनिया में रहने की सबसे अच्छी दो जगह ‘किसी के दिल में’ या ‘किसी की दुआओं में’ !!

मुझे आदत नहीं कहीं बहुत देर तक ठहरने की,, लेकिन जब से तुम मिले हो ये दिल कही और ठहरता नही !!

खूश्बु कैसे ना आये मेरी बातों से यारों, मैंने बरसों से एक ही फूल से जो मोहब्बत की है ।

तेरे मुस्कुराने का असर सेहत पे होता है लोग पूछ लेते है..दवा का नाम क्या है !

मैंने तो देखा था बस एक नजर के खातिर…. क्या खबर थी की रग रग मे समां जाओगे तुम…..!!

बड़ी मुद्दत से चाहा है तुझे! बड़ी दुआओं से पाया है तुझे! तुझे भुलाने की सोचूं भी तो कैसे! किस्मत की लकीरों से चुराया है तुझे!

प्यार का रिश्ता भी कितना अजीब होता है। मिल जाये तो बातें लंबी और बिछड़ जायें तो यादें लंबी।

इश्क़ वो नहीं जो तुझे मेरा कर दे…. इश्क़ वो है जो तुझे किसी और का ना होने दे !!

एक सच्चे प्यार का अंत नहीं हो सकता, क्यूंकि सच्चा प्यार कभी ख़त्म नहीं होता।

ना हीरो की तमन्ना है और ना परियों पे मरता हूँ . . . वो एकभोली सी लडकी हे जिसे मैं मोहब्बत करता हूँ !!

तेरा ज़िक्र..तेरी फिक्र ..तेरा एहसास…तेरा ख्याल..!!! तू खुदा नहीं ….फिर हर जगह मौज़ूद क्यूँ है…!!

प्यार की गहरायी की सीमा तब पता चलती है, जब बिछुड़ने का समय होता है।

अगर इश्क़ करो तो अदब-ऐ-वफ़ा भी सीखो,यु दोस्त के रूम पर ले जाकर ठोकना मोहब्बत नही होती !!

मोहब्बत यूँ ही किसी से हुआ नहीं करती…., अपना वजूद भूलाना पडता है,किसी को अपना बनाने के लिए…।

प्रेम एक आत्मा से मिलके बनता है जो दो शरीरों में निवास करती है !!

वो मेरे दिल पर सिर रखकर सोई थी बेखबर; हमने धड़कन ही रोक ली कि कहीं उसकी नींद ना टूट जाए।

लिख दू तो लफ्ज़ तुम हो, सोच लू तो ख्याल तुम हो, मांग लू तो मन्नत तुम हो, और चाह लू तो मोहोब्बत भी तुम ही हो.

ईश्क की होलिया खेलनी छोड दी है हमने वरना हर चेहरे पे रंग हमारा होता !!

काश तुम मेरे होते…. साँस ही थम जाती…. अगर, ये अल्फाज तेरे होते….!!

बहुत गौर से देखने पर जिंदगी को जाना मैंने…दिल से बड़ा दुश्मन पूरे जमाने में नहीं है…!!!

क्यूँ दुनिया वाले प्यार को ईश्वर का दर्जा देते है ? मैंने तो आज तक नहीं सुना कि ईश्वर ने बेवफ़ाई की हो …।

आओ ले चलें इश्क को वहाँ तक,जहाँ फिर से कोई कहानी बने जहाँ फिर कोई गालिब नज्म़ पढे ,फिर कोई मीरा दिवानी बने !!

जब आप किसी को प्यार करते हैं तो बिना अपेक्षा उसे अपना सब कुछ दे देते हैं।

मेरा दिल सिर्फ तुम्हारे लिए धड़कता है।

तुमसे किसने कह दिया कि मुहब्बत की बाजी हार गए हम? अभी तो दाँव मे चलने के लिए मेरी जान बाकी है !