माफ़ तो बार बार कर सकते है, भरोसा बार बार नहीं कर सकते !!

ये चालाकियाँ कहा मिलती है कोई बताओ यारों, हर कोई ठग लेता है जरा सा मीठा बोलकर !!

पता नहीं ऐसा क्यूं होता है अकसर लाईफ में …. कि जिसे हम ज्यादा मान देते हैं वही हमारी जान का दुश्मन बन जाता है!

भरोसा एक रबड़ की तरह होता है, जो हर गलती के बाद छोटा और छोटा होता जाता है !!

जिंदगी मैं भी मुसाफ़िर हूँ तेरी कश्ती का, तू जहाँ मुझसे कहेगी मैं उतर जाऊँगा !

बहुत कमिया निकालने लगे हैं… हम दूसरों में… आओ एक मुलाक़ात ज़रा… आईने से भी कर लें…!!!

सभी लोग मरते हैं. पर वास्तव में सभी लोग जीते नहीं हैं.

जब मेरे मरने का वक़्त होगा तो वो मै होऊंगा जो मरेगा , इसलिए मुझे वैसे जीने दो जैसे मैं चाहता हूँ.

नख़रे तो सिर्फ माँ-बाप उठाते है, लोग तो बस उंगलियाँ उठाते है !!

जब तक हम ये जान पाते हैं कि ज़िन्दगी क्या है तब तक ये आधी ख़त्म हो चुकी होती है ।

जीवन का सबसे बड़ा उपयोग इसे किसी ऐसे चीज में लगाने में है जो इसके बाद भी रहे.

एक सवेरा था जब हँस कर उठते थे हम और आज कई बार बिना मुस्कुराये ही शाम हो जाती है..

जीवन हम जो चाहें उसे देने के लिए बाध्य नहीं है.

जीवन कठिन है. ये और भी कठिन हो जाता है अगर आप बेवकूफ हों.

जिन्दगी किसीके लिए नहीं रूकती, बस जीने की वजह बदल जाती है !!

बदलते तो इंसान है, वक़्त तो एक बहाना है !!

भरे बाजार से अक्सर खाली हाथ ही लौट आता हुँ …… पहले पैसे नही थे, अब ख्वाहिशें नही रही…।।

खुबसूरत सा वो पल था, लेकिन वो कल था !!

आज जिस्म में जान है तो देखता भी नहीं है कोई जब “रूह” निकल जाएगी तो “कफ़न” हटा हटा कर देखेंगे लोग

ना किसी के अभाव में जियो, ना किसी के प्रभाव में जियो। यह जिंदगी है आपकी, अपने स्वभाव में जियो।

ज़िन्दगी बदलने के लिए लड़ना पड़ता है आसान करने के लिए समझना पड़ता है.

लोग‬ इतनी ‪‎जल्दी‬ बात ‪नहीं‬ मानते, जितनी‬ जल्दी ‪‎बुरा‬ मान ‪जाते‬ है !!

ज़रा मुस्कुराना भी सीखा दे ऐ ज़िंदगी, रोना तो पैदा होते ही सीख लिया था !!

जिनसे मिलते ही दिल को ख़ुशी मिल जाती है, वो लोग क्यों ज़िन्दगी में कम ही मिला करते है !!

जिंदगी की कशमकश में थोड़ा उलझ गये हैं दोस्तों, वरना हम तो उनमे से हैं, जो दुश्मनों को भी अकेला महसूस नहीं होने देते।

सलीक़ा हो अगर भीगी हुई आँखों को पढने का, तो फिर बहते हुए आंसू भी अक्सर बात करते है !!

लोग पूछते हैं कौन सी दुनिया में जीते हो, हमने भी कह दिया मोहब्बत में दुनिया कहाँ नजर आती है।

चीजें बदलती है. और दोस्त चले जाते हैं.ज़िन्दगी किसी के लिए रूकती नहीं.

जो मिल गया उसे तक़दीर का लिखा कहिये, जो खो गया उसे क़िस्मत का फ़ैसला कहिये !!

एक हमसफर वो होता है जो पूरी ज़िन्दगी साथ निभाये, और एक हमसफर वो जो चंद लम्हों में पूरी ज़िन्दगी दे जाये !!

समझदार मैं एक हूँ बाक़ी सब नादान, इसी भरम में आजकल घूम रहा इंसान !!

सच्चे रिश्तों की खूबसूरती एक दूसरे की गलतियों को बर्दाश्त करने में है। क्योंकि बिना कमी का इंसान तलाश करोगे तो अकेले ही रह जाओगे….

जिंदगी लोगों से प्रेम करने,उनकी सेवा करने,उन्हें सशक्त बनाने और उन्हें प्रोत्साहित करने का नाम है |

जीवन में चार चीजें मत तोडिये विश्वास, रिश्ता, हृदय, वचन.. क्योंकि जब यह टूटते हैं तो कोई आवाज नहीं होती। लेकिन दर्द और कष्ट बहुत होता है।

इतनी बदसलूकी ना कर ऐ जिंदगी हम कौन सा यहाँ बार बार आने वाले है !!

जितना मैंने सोचा था , ज़िन्दगी उससे कहीं छोटी है.

प्यार और मजाक, हर किसीके साथ नहीं किया जाता !!

जिसने जीवन मे संघर्ष नहीं किया उसका जीवन व्यर्थ‍‌ है |

फ़िक्र करने वाले लोग, नसीब वालो को मिलते है !!

जहाँ प्रेम है वहां जीवन है.

गुनाह छोटा हो या बड़ा, हिसाब सबका होता है !!

शब्दों को होठों पर रखकर दिल के भेद ना खोलो, मैं आँखों से सुन सकता हूँ, तुम आँखों से बोलो…

स्वयं के प्रति संतोष दूसरे के प्रति दया, इन्हीं दो पंखों से जीवन के आकाश को छु सकते हैं हम..||

मंजिल मेरे कदमों से अभी दूर बहुत है, मगर तसल्ली ये है की कदम मेरे साथ है !!

हम जीवन से वही सीखते हैं , जो उससे वास्तव में सीखना चाहते हैं |

किस बात का गुमान लिए फिरते हो, एक दिन मर तो तुम भी जाओगे !!

मिली है अगर जिंदगी तो मिसाल बन कर दिखा दो, वर्ना इतिहास के पन्ने आजकल रिश्वत देकर भी छपते है !!

जिसे तुम चाहते हो अग़र वो न अपनाए, तो उसके हो जाओ जो तुम्हे चाहता है !!

अगर कसमें सच्ची होती तो, सबसे पहले खुदा मरता !!

सब कुछ जान लिया गया है सिवाय इसके कि कैसे जियें.

वास्तविकता मेरे जीवन को बर्वाद करते जा रही है.

इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया, ऐ ज़िन्दगी… चलने का न सही, सम्भलने का हुनर तो आगया…

ज़िन्दगी की हकीकत को बस इतना जाना है..!! दर्द में अकेले हैं और ख़ुशी में जमाना है..!!