👉 🐅 शेर को जगाना, ऒर हमे सुलाना ☺ किसी के बस _की _बात नही. 🔫 ɦʊʍ _😎 वहाँ 🚶 खड़े होते हॆ, जहाँ ʍattɛʀ 👊 बड़े होते हॆ..🔫🔫 👈

इतना #मगरूर मत बन #मुझे वक्त कहते हैं,
मैंने कई #बादशाहो को #दरबान बनाया हैं!!

औकात की बात मत कर ‪#‎ऐ_दोस्त‬ … लोग तेरी ‪#‎बंदूक‬ से ज्यादा मेरी ‪#‎आंखो‬ से डरते है!!!

जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन क्यूंकि एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले .!!

जज्ब-ए-इश्क सलामत है तो इन्शा अल्लाह, कच्चे धागे में चले आयेंगे सरकार बंधे।

#सुनने 👂🏼का अगर☝🏽 दम💪🏼 है #बेटा👶🏻तो एक☝🏽 बात बता🗣 दूं क्या❗ है मेरा😎 #Attɨtʊɖɛ😈 ज़रा 👌🏽 में बता दूं☺ #गीदड़🦅 की तरह #झुंड👨�👦👦 में हमले🔫 को छोड़कर😡 आ सामने 👉🏼से #लड़👊🏽 तेरी👆 #औक़ात👎 बता दूं…!!

खरीद लेंगे सबकी सारी उदासियाँ दोस्तों ! सिक्के हमारे मिजाज़ के, चलेंगे जिस रोज !!

गिनती ठीक से सीखा नही, मगर… इतना मालूम हैं खुशियाँ बांटने से बढती हैं !

वो लाख तुझे पूजती होगी मगर तू खुश न हो ऐ खुदा.. वो मंदिर भी जाती है तो मेरी गली से गुजरने के लिए..!!

🕊 #तीतरा दे ✋ नाल खेड़ 🎭 के बने सी जो #शिकारी 🔫 ☝ ओ किवें 💪 कर लेंगे #शिकार 👑 #tiger 🐅 दा 🤘 ❤

👉Are Pagli..👸🏻 अब तु ❤जल्दी से मान जा, 💃🏻 अब😗 रोज-रोज सरीफ 😈 रहने की Acting नही होती 😘😍

# बैबी 💃 तू ‪#‎आम‬ सी # लड़की 👩 है, # तुझे_ख़ास बना दूंगा, # जिस दिन # दिल 💝 दिया, # इतिहास बना ‪#‎दूंगा‬ ।।

खरीद लेंगे सबकी सारी उदासियाँ दोस्तों ! सिक्के हमारे मिजाज़ के, चलेंगे जिस रोज !!

हारने वालो का भी अपना रुतबा होता हैं …मलाल वो करे जो दौड़ में शामिल नही थे..

तू मुहब्बत से कोई चाल तो चल, हार जाने का हौसला है मुझ में!!!

हम वो शेर हैं जीसकी गुफा में लोगों के पेर के आने के नीशान हैं पर…… जाने के नही ।

शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी, अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ।

हजारों चेहरों में उसकी झलक मिली मुझको… पर. दिल भी जिद पे अड़ा था कि अगर वो नहीं ,तो उसके जैसा भी नहीं!!!

हम👦 में #अकड़💀 है , #गुरूरहै फिर☝🏻 भी #रेहमत 😍देखो👀 #रब की… हमे👦🏻 #चाहने❤ के लिए ➡सब👩‍👦 मजबूर 🙇है…!!

ज़हासे तेरी बादशाही खत्म होंती हे, वहा से मेरी नवाबी सुरु होती हे।

गम के पास #तलवार, मैं #उम्मीद की ढाल लिए बैठा हूँ..!
ऐ जिंदगी ! तेरी हर #चाल के लिए मैं एक चाल लिए बैठा हूँ..!!!

मुझे हाथ की रेखाओं पर इसीलिए, विश्वास नहीं है…; कैद ये मेरी मुठ्ठी में है, क्या खोलेगी किस्मत मेरी!!!

👉Are Pagli..👸🏻 अब तु ❤जल्दी से मान जा, 💃🏻 अब😗 रोज-रोज सरीफ 😈 रहने की Acting नही होती 😘😍

मेरे मिज़ाज को समझने के लिए, बस इतना ही काफी है, मैं उसका हरगिज़ नहीं होता….. जो हर एक का हो जाये।

ईस ‪#‎शहर‬ की हवा तक हमारे ‪#‎खिलाफ‬ नहि चल सकती…! तो फिर ‪#‎दूश्मन‬ कि ‪#‎हैसीयत‬ ही क्या है…!!

रियासते तो आती जाती रहती हे,मगर बादशाही करना तो..आज भी लोग हमसे सीखते हे!

तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे… अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।

#Attitude😏 के 👉#बाजार 🌆में जीने 🚶🏻का अलग 😎ही #मजा😉 है लोग👉👦#जलना 😡नहीं❌ #छोड़ते 😠 और➡ #हम_मुस्कुराना 😄

जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ । किस्मत की रोटी तो कुत्तों को भी नसीब हो जाती है

ना gaadi🚘… ना bullet🏍 … ना ही रखे हथियार 🔫 … एक है सीने में जिगरा 😈 और दुसरे ✌ जिगरी 😉yaar😘…

बात मुक्कदर पे आ के रुकी है वर्ना, कोई कसर तो न छोड़ी थी तुझे चाहने में !!

ओरों की जमीन सिर्फ जमीन हे और ; हमारी जमीन एक गरदिश।

जो लडकिया मुझे bad boy केहेती है…शायद उन्हें ए नही पता की शेहेजादे कभी सुधरे हुए नही होते!!!

दर्द ऐ महोबत तो हमने भी बहुत की, पर भुल गये थे की HEROIN कभी VILLAIN की नही होती…!!

बहुत ‪#‎खुश‬ 😊 रहता हूँ‪ #‎आज_कल‬..😂 ‪#‎मै‬…👈‪
#‎क्युँकि‬ अब‪ #‎उम्मीद‬ खुद से रखता हूँ,‪#‎औरों‬ से‪ #‎नही‬… 😎

खेल ताश का हो या जिंदगी का , अपना इक्का तब ही दिखाना जब सामने बादशाह हो ।

ना राईट . . ना फाईट . . अपना स्टेटस आया की वातावरन टाईट!!!

सुनो जिसकी #फितरत थी #बगावत करना .
हमने उस दिल पे #हुक़ूमत की है .!!!

दिमाग कहता है मारा जायेगा लेकिन दिल कहता है देखा जाएगा

😤 जंग लगी #तलवारो⚔ पे Ab धार ✨चढानी होगी, #कुछ✨ लोग😒 #ओकात 😏भूल gYe हे, शायद उनको 😠【 🔪humari🔪】😎 याद दिलानी होगी….

संघर्षो में यदि कटता है तो कट जाए सारा जीवन..!! कदम-कदम पर समझौता मेरे बस की बात नहीं….!!!!

मैं तेरे नसीब की बारिस नहीं जो तुज पे बरस जाऊ।। तुझे तक़दीर बदल नि होगी मुझे पाने के लिए ।

अगर हम जैसे शरीफो ने दादागिरी शुरु करदी तो ,, इन हसिनाओ को कोन संभालेगा !!

अकल कितनी भी तेज ह़ो नसीब के बिना नही जित सकती , बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद.. कभी बादशाह नही बन सका ।

दादागिरी तो हम मरने के बाद भी करेंगे , लोग पैदल चैलेगे और हम कंधो पर ..!!

गुलामी तो तेरे इश्क की हे वरना , ये दिल कल भी नवाब था और आज भी हे.!!!

👉 🐅 शेर को जगाना, ऒर हमे सुलाना ☺ किसी के बस _की _बात नही. 🔫 ɦʊʍ _😎 वहाँ 🚶 खड़े होते हॆ, जहाँ ʍattɛʀ 👊 बड़े होते हॆ..🔫🔫 👈

🚶मेरे पास 👭गोपीयाँ तो बहुत है…. पर मेरा मन मेरी👸 राधा के Siwa कही #लगता ही नही…✍

#ख्वाहिश 😍 भले #छोटी सी 😅 हो, लेकिन, उसे #पुरा 😊 करने के लिए #दिल ❤ #जिद्दी 😏 होना #चाहिए..

हम घोडे के ‪#‎ट्रिगर‬ पे नहीँ, बल्की खुद के ‪#‎जीगर‬ पे जीते हे ।

शहर भर मेँ एक ही पहचान है ‘हमारी’….सुर्ख आँखे,गुस्सैल चेहरा और नवाबी अदायेँ’!

थोड़ा #अकड़ के #जीना सिख लो दोस्तों, #मोम जैसा #दिल 💖 लेके फिरोगे तो लोग #जलाते रहेंगे और #पिघलाते ही रहेंगे..!!

दूर हो जाने की तलब है तो शौक से जा बस याद रहे की मुड़कर देखने की आदत इधर भी नही!!

इश्क न होने के सिर्फ दो तरीके हे.. या तो दिल न बना होता, या तुम ना बनी होती!!!

Ek वो ‪#‎pagali‬ हैं जो मुझे समजती nahi..Or यहाँ Jamana मेरे ‪#‎Status‬ ko dekhke दीवाना हुआ Ja रहा है..!!

तेरी मोहब्बत को कभी खेल नही समजा , वरना खेल तो इतने खेले है कि कभी हारे नही ।

हमारी रगों में वो खून दोड़ता है, जिसकी एक बूंद अगर तेजाब पर गिर जाए तो तेजाब जल जाये ।

हम भी दरिया है, हमे अपना हुनर मालूम हे। जिस तरफ भी चल पडेंगे, रास्ता हो जायेगा।

हारने वालो का भी अपना रुतबा होता हैं …मलाल वो करे जो दौड़ में शामिल नही थे..

यहाँ किसकी मज़ाल है जो छेड़े दिलेर को .
गर्दिश में तो कुत्ते भी घेर लेते हैं शेर को ..,!!!